Bitcoin Latest News: बिटकॉइन को भारत में प्रतिबंध लगाने पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कह दी यें बड़ी बात,,,,

भारतीय संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो चुका है। भारत सरकार देश में जल्द ही बिटकॉइन (Bitcoin) जैसी कई क्रिप्टोकरेंसीज को रेग्युलेट करने के लिए भारत सरकार आने वाले कुछ दिनों में इस सत्र में बिल लाने की तैयारी कर रहीं है. इसी बीच भारतीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अभी (Finance Minister Nirmala Sitharaman) आज साफ कह दिया हैं कि भारत सरकार देश में बिटकॉइन को करेंसी के रूप में मान्यता देने की कोई योजना नहीं है। क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री के एक वर्ग में इस तरह की चर्चा थी कि सरकार बिटकॉइन को पर पूरी तरह से प्रतिबंध नहीं लगा सकती है।

Bitcoin Latest News

बिटकॉइन बैन इन इंडिया

बता दें की रपोर्ट अनुसार वित्त मंत्री संसद में एक और जवाब देते हुऐ कहा की सरकार (Bitcoin) बिटकॉइन के लेनदेन के आंकड़े एकत्र नहीं करती है। और उन्होंने कहा की भारत में बिटकॉइन को एक करेंसी के रूप में मान्यता देने का कोई प्रस्ताव नहीं लाया जायगा। आपको बता दें की न्यूज़ रिपोर्ट की मानें तो मोदी सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency Bill 2021) पर बैन लगाने के लिए ‘द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021’ पेश करने की तैयारी कर रहीं है। आपको बतादे की भारत में अभी क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग यह इस लेन – देन के संबंध में न तो कोई प्रतिबंध है और न ही कोई नियमन की व्यवस्था है।

RBI ने 2018 में क्रिप्टोकरेंसीज क़िय था बैन

आपको बता दें की RBI ने 2018 को भारत में क्रिप्टोकरेंसीज पर पूरी तरह से बैन लगा दिया था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने 2020 में यह बैन हटाया दिया था। क्रिप्टोकरेंसीज के रेग्युलेशन के लिए इंडस्ट्री स्टेकहोल्डर्स और केंद्र के बीच बातचीत चल रही है। इंडस्ट्री के सूत्रों के मुताबिक भारत इस समय में 10 करोड़ से अधिक लोगों के पास क्रिप्टोकरेंसी है। आपको बता दें इन सबसे जादा युवाओं के साथ सीनियर सिटीजंस भी शामिल हैं। देश में क्रिप्टो ऑनर्स की संख्या अमेरिका से अधिक है।

क्या कहना है क्रिप्टोकरेंसीज के एक्सपर्ट का इस ‘Cryptocurrency Bill 2021’

क्रिप्टोकरेंसीज इंडस्ट्री के एक्सपर्ट का कहना है कि देश में क्रिप्टोकरेंसीज पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं होगा। ऐसा इस लिए क्यकि बिटकॉइन का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ डॉलर से अधिक है। और सरकार ने क्रिप्टोकरेंसीज को एसेट क्लास में डालने की बात कही थी। इसलिए उम्मीद यह की जा रही है कि बिटकॉइन को एसेट क्लास में क्लासीफाई किया जा सकता है। Blockchain and Crypto Assets Council के मुताबिक भारत में 6 लाख करोड़ रुपये की क्रिप्टो एसेट्स है। जयंत सिन्हा की अगुवाई वाली Standing Committee on Finance ने क्रिप्टो एक्सचेंजेज, ब्लॉकचेन और Crypto Assets Council (BACC) के प्रतिनिधियों से मुलाकात की थी। समिति का कहना था कि क्रिप्टोकरेंसीज पर बैन नहीं लगाया जाना चाहिए बल्कि इन्हें रेगुलेट करना चाहिए।

यें भी पढ़े Best cryptocurrency app in India | बेस्ट क्रिप्टो करेंसी ऐप्स इन इंडिया