Banking News: जल्द ही यह बैंक लोन की इंटरेस्ट रेट को और महंगा करने जा रहें, SBI…!

Home » Personal Finance » Banking News: जल्द ही यह बैंक लोन की इंटरेस्ट रेट को और महंगा करने जा रहें, SBI…!
Banking News
Banking News

अगर आपका बैंक अकाउंट भारतीय स्टेट बैंक (SBI), एक्सिस बैंक (Axis Bank) या कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) में है और आप लोन लेने का मन बना रहे हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है. दरअसल, अब आपको इन बैंकों से कर्ज लेना महंगा पड़ेगा. इन बैंकों ने अपने MCLR (मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट) में बढ़ोतरी की है. इसके चलते, अब आपकी EMI बढ़ जाएगी और होम, ऑटो या पर्सनल लोन लेना महंगा हो जाएगा. इसके साथ ही, आने वाले दिनों में दूसरे बैंकों से भी कर्ज लेना महंगा हो सकता है.

SBI ने MCLR में किया 0.1 फीसदी का इजाफा

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI ने अपने MCLR (मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट) में 10 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.1 फीसदी का इजाफा किया है. एसबीआई के इस फैसले के बाद जिन लोगों ने MCLR पर कर्ज लिया है, उनकी EMI बढ़ जाएगी. हालांकि, जिन लोगों के लोन अन्य बेंचमार्क से लिंक्ड हैं, उनकी ईएमआई पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. एसबीआई की EBLR (एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड लेंडिंग रेट) 6.65 प्रतिशत है, जबकि RLLR (रेपो-लिंक्ड लेंडिंग रेट) 6.25 प्रतिशत है. ये दर एक अप्रैल से लागू है. होम और ऑटो सहित किसी भी तरह का लोन देते समय बैंक EBLR और RLLR पर क्रेडिट रिस्क प्रीमियम (CRP) को जोड़ते हैं.

एसबीआई की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार नई दरें 15 अप्रैल से लागू हो गई हैं. दरों में बदलाव के बाद एक वर्षीय MCLR सात प्रतिशत से बढ़कर 7.10 प्रतिशत हो गया है. ओवरनाइट, एक महीने और तीन महीने की MCLR 10 बीपीएस बढ़कर 6.75 फीसदी हो गई, जबकि छह महीने की एमसीएलआर बढ़कर 7.05 फीसदी हो गई है. ज्यादातर कर्ज एक साल की MCLR दर से जुड़े होते हैं. इसी तरह दो साल की MCLR 0.1 प्रतिशत बढ़कर 7.30 प्रतिशत और तीन साल की MCLR 0.1 प्रतिशत बढ़कर 7.40 प्रतिशत हो गई.

एक्सिस बैंक ने भी महंगा किया लोन

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एक्सिस बैंक ने भी अपने एमसीएलआर में 5 बेसिस प्वाइंट्स की बढ़ोतरी की है. ये नई दरें 18 अप्रैल से लागू हो गई हैं. एक्सिस बैंक में ओवरनाइट और एक महीने तक की अवधि के लिए MCLR बढ़कर 7.20% हो गई है. वहीं, 3 महीने के लिए यह रेट 7.30%, 6 महीने के लिए 7.35% और एक साल के लिए 7.40% हो गई है. इसके अलावा, दो साल के लिए MCLR बढ़कर 7.50 फीसदी और तीन साल के लिए 7.55 फीसदी हो गया है.

कोटक महिंद्रा बैंक में क्या हैं नई दरें

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कोटक महिंद्रा बैंक ने भी अपने MCLR में 5 बेसिस प्वाइंट्स का इजाफा किया है. नई दरें 16 अप्रैल, 2022 से लागू हो गई हैं. दरों में संशोधन के बाद अब ओवरनाइट MCLR बढ़कर 6.65 फीसदी हो गई है. वहीं, अब यह दर एक महीने के लिए 6.90%, तीन महीने के लिए 6.95%, छह महीने के लिए 7.25%, एक साल के लिए 7.40%, दो साल के लिए 7.70% और तीन साल के लिए 7.90% हो गई है.

Share:

Related Posts